Courses After 10th in Hindi | 10वीं के बाद कौन सा सब्जेक्ट लें?

Courses After 10th in Hindi – जब हम 10वीं क्लास में होते हैं तो उसके बाद कई स्टूडेंट्स को बड़ी दिक्कत होती है, क्योंकि 10वीं वह क्लास है जिसके बाद हमें अपना भविष्य चुनना होता है। 10वीं पास करने के बाद ही हम उस विषय को लेते हैं, जिसमें हमें अपना करियर आगे बनाना होता है।

कई बार ऐसा भी होता है, जब हम जल्दबाजी में कोई ऐसा विषय चुन लेते हैं, जिसमें आगे बढ़ने में हमारी कोई रुचि नहीं होती। मान लीजिए आप डॉक्टर बनना चाहते हैं, और आप 10वीं कक्षा में पीसीएम (भौतिकी, रसायन विज्ञान और गणित) लेते हैं। जिसके बाद आपको काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

अगर आप भी 10वीं में हैं, या आपने 10वीं पास कर ली है तो आपके मन में यह सवाल जरूर होगा कि 10वीं के बाद कौन सा सब्जेक्ट लें? तो आप इस लेख को पढे। आज इस लेख में हम आपको 10वीं के बाद विषय से संबंधित सभी जानकारी देने जा रहे हैं। मुझे पूरी उम्मीद है कि अगर आप इस लेख को पूरा पढ़ेंगे तो आपको अपने सवाल से जुड़े सभी जवाब मिल जाएंगे। तो आइए जानते हैं, 10वीं के बाद कौन सा विषय लेना चाहिए-

Courses After 10th | 10वीं के बाद कौन सा विषय ले 

कक्षा 10वीं तक भारत के सभी बोर्ड में लगभग एक जैसे विषय पढ़ाए जाते हैं। लेकिन जब हम 10वीं कक्षा पास करते हैं तो उसके बाद हमें अपने करियर के लिए कुछ ऐसे विषयों का चयन करना होता है, जिनके माध्यम से हमारी आगे की पूरी पढ़ाई 12वीं के विषयों पर ही आधारित होती है। 10वीं के बाद कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए? यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण निर्णय है। जिस पर आपका पूरा एकेडमिक करियर टिका होता है। अगर आपने 10वीं के बाद जल्दबाजी में गलत विषय का चुनाव कर लिया तो आपको कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।

उदाहरण के लिए – मान लीजिए किसी ने आपसे कहा कि डॉक्टर की लाइन अच्छी है, तो आप उसके अनुरोध पर जीव विज्ञान का विषय लेते हैं। लेकिन बाद में आपने सोचा कि अगर आपको इंजीनियरिंग की पढ़ाई ज्यादा अच्छी लगती है तो आपको 10वीं के बाद पीसीएम (फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथमेटिक्स) लेना चाहिए था। लेकिन आपने जीव विज्ञान लिया है। अगर आप इंजीनियरिंग करना चाहते हैं तो या तो आपको फिर से 12वीं करना होगा या फिर आपको डॉक्टर लाइन में ही करियर बनाना होगा। इसलिए 10वीं करने के बाद आपको अपने विषयों का चुनाव बहुत सोच-समझकर करना चाहिए। तो आइए जानते हैं, 10वीं के बाद कौन सा विषय लेना चाहिए-

10nt Pass Course

10वीं के बाद हमारे पास सब्जेक्ट की 3 कैटेगरी होती है, जिसमें से हमें अपनी पसंद के अनुसार सब्जेक्ट का चुनाव करना होता है। तीनों विषयों की श्रेणी नीचे दी गई है –

  1. विज्ञान
  2. व्यापार
  3. कला

आइए जानते हैं, इन तीनों विषयों के बारे में पूरी जानकारी। 12वीं के बाद कौन सा सब्जेक्ट पढ़ सकते हैं-

10वीं के बाद विज्ञान विषय

साइंस सब्जेक्ट ज्यादातर स्टूडेंट्स की पहली पसंद होता है। क्योंकि अगर आप भविष्य में डॉक्टर या इंजीनियरिंग में अपना भविष्य बनाना चाहते हैं तो आपको विज्ञान विषय का चुनाव करना होगा। हालांकि विज्ञान के विषयों को पढ़ना थोड़ा मुश्किल है। इसमें आप या तो राज्य बोर्ड पैटर्न चुन सकते हैं, या फिर सीबीएसई पैटर्न चुन सकते हैं।

विज्ञान विषय को 2 प्रकार के समूह में बांटा गया है –

पीसीएम (भौतिकी, रसायन विज्ञान, गणित)

अगर आप 10वीं के बाद इंजीनियरिंग के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो आपको 12वीं पीसीएम (फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ) ग्रुप से करनी होगी। जिससे आपके पास इंजीनियरिंग के कई विकल्प खुले होंगे।

पीसीबी (भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान)

अगर आप डॉक्टरी क्षेत्र में जाना चाहते हैं, तो आपको पीसीबी (फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी) ग्रुप को चुनना चाहिए, जिसके बाद आप मेडिकल से संबंधित कोर्स कर सकते हैं, जिसमें एमबीबीएस, बीएएमएस, बीएचएमएस, बी.फार्मेसी, डी.फार्मेसी आदि पाठ्यक्रम शामिल हैं।

10वी बाद में वाणिज्य विषय

कॉमर्स उन छात्रों के लिए एक अच्छा विषय है जो 10वीं के बाद बिजनेस, अकाउंट्स, फाइनेंस में जाना चाहते हैं। अगर आप 10वीं के बाद सीए में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो आपको 10वीं कॉमर्स से ही पास करना चाहिए। वाणिज्य में लेखा, व्यवसाय अध्ययन, गणित / सूचनात्मक अभ्यास (आईपी) / अर्थशास्त्र, और हिंदी और अंग्रेजी विषय शामिल हैं। आप 12वीं कॉमर्स सब्जेक्ट करके बीकॉम, एम.कॉम, बीबीए, एमबीए से ग्रेजुएशन को अपना करियर बना सकते हैं। इसके अलावा, आप कुछ अन्य नौकरियों के लिए भी आवेदन कर सकते हैं, जिनमें परीक्षा (आईबीपीएस, एसबीआई पीओ/क्लर्क) आदि शामिल हैं। यदि आप इन सभी चीजों में रुचि रखते हैं, तो वाणिज्य आपके लिए एक अच्छा विषय है।

10वीं के बाद कला विषय

कला पक्ष भी एक अच्छा विषय है। अगर आप सरकारी नौकरी में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो कला पक्ष आपके लिए सबसे अच्छा विषय है। क्योंकि आर्ट्स से 12वीं पास करने के बाद आप कॉम्पिटिटिव एग्जाम की तैयारी कर सकते हैं। कला पक्ष में, आपको अंग्रेजी, इतिहास, भूगोल, समाजशास्त्र, मनोविज्ञान, अर्थशास्त्र और नागरिक शास्त्र जैसे विषयों का अध्ययन करने को मिलता है। इसके साथ ही आप इवेंट मैनेजमेंट, मास कम्युनिकेशन और जर्नलिज्म में भी करियर बना सकते हैं।

IAS बनने के लिए 10वीं के बाद कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए?

IAS बनने के लिए 10वीं या 12वीं के बाद कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए? जो लोग आईएएस परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, या जो आईएएस बन गए हैं, ऐसा माना जाता है कि आपको ऐसा विषय चुनना चाहिए, जो आपके आईएएस परीक्षा में काम करे। जिसके तहत राजनीति विज्ञान, भूगोल, इतिहास, अर्थशास्त्र, दर्शन, अर्थशास्त्र, नागरिक शास्त्र और लोक प्रशासन जैसे विषय शामिल हैं। IAS की तैयारी के दौरान यह टॉपिक आपके लिए बहुत उपयोगी है।

हालांकि यह निश्चित नहीं है कि आप इन विषयों को लेकर आईएएस अधिकारी बन सकते हैं, अगर आपने पीसीएम से 12वीं या कोई स्नातक किया है, तो आप आईएएस अधिकारी भी बन सकते हैं। आपको बस परीक्षा पास करनी है। हालांकि, पीसीएम वाले छात्रों को कला के विषय को अच्छी तरह से समझने के लिए बाद में काफी मेहनत करनी पड़ती है।

यह भी जाने 

निष्कर्ष

यह लेख 10वीं के बाद कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए और कौन सा सब्जेक्ट लेने के बाद आप भविष्य में क्या कर सकते हैं। इससे जुड़ी सारी जानकारी आपको इस लेख में दी गई है। अगर आप भी 10वीं कक्षा में हैं, तो आपको 10वीं बोर्ड परीक्षा की तैयारी कैसे करें, इस लेख को भी अवश्य पढ़ना चाहिए। अगर आपके मन में इस लेख से जुड़ा कोई सवाल है तो आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं। अगर आपको यह लेख पसंद आया है, तो कृपया इस लेख को अपने सभी दोस्तों के साथ साझा करें जो अभी 10 वीं कक्षा में पढ़ रहे हैं।

Leave a Comment